खेलबिहार न्यूज़

पटना 6 अक्टूबर: बिहार क्रिकेट एसोसिएशन(अध्यक्ष गुट) ने विभिन्न आयु वर्ग के सेलेक्शन कमिटी बनाने के लिए कुल 33 आवदेकों का इंटरव्यू 8 एवं 9 अक्टूबर को पटना में लेने जा रही है।

लेकिन हैरत की बात यह है कि जिन आवेदकों के लिए रणजी या फर्स्ट क्लास मैच खेले होना अनिवार्य था ओहि अब इन सभी 33 आवेदकों का इंटरव्यू ऐसे लोगो लेंगे जिन्होंने खुद 1 भी रणजी ट्रॉफी या बोर्ड मैच नही खेला है।

आपको बता दे कि बीसीए एडवाइजर कमिटी के चैयरमैन अजय नारायण शर्मा है जो रणजी एवं बोर्ड मैच खेले है लेकिन एक न्यूज़पेपर में छपी ख़बर के अनुसार इंटरव्यू के लिए तीन सदस्य कमिटी बनी है जिसमे बीसीए कार्यकारी सचिव कुमार अरविंद, सीईओ मनीष राज, जीएम क्रिकेट ऑपरेशन सुबीर चंद्र मिश्रा शामिल है।

ओहि बिहार क्रिकेट के जानकर बताते है कि जीएम क्रिकेट ऑपरेशन एवं कार्यकारी सचिव को थोड़ा क्रिकेट की जानकारी होगी लेकिन एक ऐसे व्यक्ति जो सीईओ पद पर है जिसके बारे आज तक बिहार क्रिकेट में नाम तक नही सुना गया जिसके बारे में पूरा बिहार नही जानता है कि यह बिहार क्रिकेट से जुड़े थे या है भी वह अब वह रणजी खेले आवदेकों का चयन करेंगे गज़ब का खेल होता है बिहार क्रिकेट में?

सोसल मीडिया से प्राप्त न्यूज़पेपर जिसमे छपी ख़बर

ओहि सोसल मीडिया से प्राप्त न्यूज़पेपर कटिंग में छपी ख़बर से पता चला है कि इन 33 आवदेकों में 9 का चयन किया जाना है ओहि न्यूज़पेपर ने बीसीए अध्यक्ष के बयान को छापते हुए लिखा है कि अध्यक्ष ने बताया है कि इंटरव्यू के लिए 3 सदस्य कमिटी में शामिल लोग जानकर है उमीद है सही चयन करंगे एवं इस पर अंतिम फैसला मुझे लेना है।

जबसे सोसल मीडिया पर यह न्यूज़ वायरल हुई है लोग कह रहे है कि बीसीए अध्यक्ष जो खुद बोर्ड का एक मैच भी नही खेले है वह अब चयनकर्ताओं का चयन करेंगे? क्या उमीद करते है कि ऐसे में बिहार के क्रिकेट आगे बढ़ेगा।

(खेलबिहार को इस खबर की जानकारी सोसल मीडिया पर वायरल एक अख़बार में छपी ख़बर से मिली है जिसे न्यूज़ में संग्लन कर दिया गया है)