खेलबिहार न्यूज़

पटना 15 अक्टूबर: बीते दिनों क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बिहार के सचिव आदित्य वर्मा ने मोइनुल हक़ स्टेडियम के परिसर जमीन पर चल रहे एकेडमी को लेकर बिहार सरकार से जाँच कराने की मांग की थी।

अब बड़ी खबर यह है कि बिहार सरकार ने आदित्य वर्मा के मांग को संज्ञान में लेते हुए उनके द्वारा भेजे ईमेल पर जांच के आदेश दे दिया गया है।अब ऐसे एकेडमी जो कहने को वर्षो से बिना लीज पर लिए जमीन पर एकेडमी चला रहे है उनपर करवाई की जा सकती है।

सीएबी सचिव आदित्य वर्मा द्वारा भेजे गए ईमेल पर जांच के आदेश जारी

इस पर सीएबी के सचिव आदित्य वर्मा ने खेलबिहार न्यूज़ को बिहार सरकार के खेल निदेशक के पत्र का हवाला देते हुए कहा है कि पिछले 10 सालो मे पहली बार शायद सरकार को यह एहसास हुआ है कि बिहार राज्य खेल प्राधिकरण के तहत मोईनुल हक स्टेडियम के बाहरी परिसर मे अवैध तरीके से एव अपने आप को अंतराष्ट्रिय घोषित एक पूर्व क्रिकेटर ने सरकारी जमीन को गलत तरीके से कब्जा कर अपना क्रिकेट ऐकेडमी चला रहा है ।

हर महीने सरकार का लाखो का नुकसान कर खुद उगाही कर रहा है सबसे चौकाने वाली बात यह है कि अपने आप को स्वयं सरकार का दुलारा भी घोषित कर रौब भी जमाते रहता है । मै बिहार के मुख्यमंत्री एवं खेल मंत्री से आग्रह कर निवेदन कर रहा हूँ कि कैसे एक आदमी सरकार के जमीन पर कब्जा जमा कर अपना क्रिकेट ऐकेडमी चला कर हर महीने लाखो रूपए कमा रहा है।

क्या इस अनैतिक कार्य मे सरकार का कोई पदाधिकारी तो समर्थन नही कर रहा है इसलिए अविलम्ब एक कमिटी बना कर सरकार इसकी जॉच करा के दोषी करार लोगो के उपर कानुन सम्मत कड़ी कार्यवाही करे । सरकार का जो भी रेबनयु का घाटा हुआ है वह दोषी लोगो से वसुल करे ।